Main Menu

पश्चिम बंगाल में ब्लू व्हेल का एक और शिकार, प्लास्टिक के बैग से सिर ढंग कर 14 साल के बच्चे ने दी जान

कोलकाता. इंटरनेट गेम ब्लू व्हेल की वजह से कथित रूप से 10वीं क्लास के बच्चे की मौत का मामला सामने आया है. पश्चिमी मिदनापुर जिले के इस 14 साल के बच्चे ने घर के बाथरूम में कथित रूप से आत्महत्या कर ली. कहा जा रहा है कि उसको ब्लू व्हेल खेलने की लत लग गई थी और अपने पिता के डेस्कटॉप पर इस गेम को खेला करता था. दरअसल यह गेम 50 दिनों का टास्क देता है और उसी क्रम में भारत समेत चीन, अमेरिका और अन्य देशों में कई बच्चों की खुदकुशी का मामला सामने आया है. माना जा रहा है कि चीन में इस तरह की 100 मौतें हुई हैं.अंकन डे पश्चिमी मिदनापुर के आनंदपुर कस्बे के स्थानीय स्कूल का दसवीं क्लास का छात्र था. शनिवार को जब वह बाथरूम से बाहर नहीं निकला तो उसने परिजनों ने दरवाजा तोड़ा और फ्लोर पर पड़ा पाया. परिवार के एक सदस्य के मुताबिक उसका सिर एक प्लास्टिक बैग से ढंका था और गर्दन के पास उसने उसको कसकर बांध रखा था. अंकन के एक दोस्त ने बाद में बताया कि वह ‘ब्लू व्हेल चैलेंज’ को खेल रहा था.
खूनी खेल,बच्चे लगा रहे हैं मौत को गले
इसी तरह के एक मामले में एक अगस्त को मुंबई के अंधेरी में 14 साल के एक बच्चे ने अपनी सोसायटी से कूदकर आत्महत्या कर ली. पुलिस मामले की जांच कर रही है. आत्महत्या के पीछे ब्लू व्हेल गेम को वजह बताया जा रहा है. बताया जा रहा है कि इस खेल ने दुनिया भर में 250 के करीब बच्चों की जान ले चुका है. मेघवाड़ी पुलिस के अनुसार एम्पायर हाइट्स की छत से 14 साल के एक बच्चे ने कूद कर जान दे दी. पता ये भी चला है कि 9वीं कक्षा में पढ़ने वाले उस बच्चे ने खुदकुशी से पहले अपने इरादे के बारे में दोस्तों को सोशल साइट पर बताया भी था. बच्चे ने अपने दोस्तों को ये भी बताया था, एक अंकल मुझे हटने के लिए बोल रहे हैं. जैसे ही वे हटेंगे, मैं कूद जाऊंगा. और हुआ भी यही.
इसलिए है यह खेल खतरनाक
यह खेल चैलेंजर्स (जिन्हें खिलाडी या प्रतिभागी भी बुलाया जाता है) और प्रशासकों के बीच के रिश्ते पर आधारित होता है. इसमें व्यवस्थापकों द्वारा दिए गए कर्तव्यों की एक श्रृंखला शामिल होती है जिसे खिलाड़ियों को पूरा करना होता है.आमतौर पर प्रति दिन एक कार्य करना होता है, जिनमें से कुछ आत्म विकृति से जुड़े होते है. कुछ कार्य अग्रिम में दिया जा सकता है, इस खेल का अंतिम कार्य में आत्महत्या करने को कहा जाता है. कार्यों की सूची को 50 दिनों में पूरा किया जाना होता है. कार्यों में शामिल है ये खतरनाक काम -सुबह 4:20 जागना, क्रेन पर चढ़ाई, एक विशिष्ट वाक्यांश या चित्र व्यक्ति के अपने हाथ या बांह पर गुदवाना, गुप्त कार्य करना, एक सुई को अपने हाथ या पैर पर चुभोना, एक पुल या छत पर खडा होना, व्यवस्थापक द्वारा भेजे गये संगीत सुनना और वीडियो देखना. इन में से एक संगीत वीडियो नार्वे गायक एमिलि निकोलस का उत्साहित गीत स्टेरियों (स्कॉटलैंड में फिल्माया) शामिल था.






Related News