वहां जाएं, जहां सुरक्षित लगता है : इंद्रेश कुमार

नागपुर. राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के संयोजक व आरएएस के वरिष्ठ पदाधिकारी इंद्रेश कुमार ने पूर्व उपराष्ट्रपति हमिद अंसारी के बारे में कहा है कि उन्हें देश में असुरक्षित लग रहा है तो वे वहां चले जाएं जहां सुरक्षित लगता हो। उन्होंने यह भी कहा कि पद पर रहते हुए अंसारी को कभी असुरक्षा भाव नहीं लगा केवल पद जाने के बाद असुरक्षितता की भावना निर्मित हो गई।
संघ पदाधिकारी के अनुसार, भारत में सामुदायिक सुरक्षा का जो भाव है वह शायद ही अन्य जगह देखने को मिलता है। शनिवार को राष्ट्रीय मुस्लिम मंच की ओर से रक्षाबंधन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसी कार्यक्रम के लिए इंद्रेश कुमार नागपुर आए थे। पत्रकारों से चर्चा में उन्होंने कहा कि अंसारी को 3 वर्ष तक मुस्लिम असुरक्षित नजर नहीं आए। पद जाने के बाद एकाएक असुरक्षा भाव जागा। अब अंसारी कांग्रेस के नेता हैं। अंसारी के बयान को कांग्रेस का बयान माना जा सकता है। लेकिन किसी भी कांग्रेस नेता का इस संबंध में बयान नहीं आया है। अंसारी के बयान का मुस्लिम समाज ने भी समर्थन नहीं किया है।
इंद्रेश कुमार के अनुसार, उपराष्ट्रपति पद पर रहते अंसारी सेक्युलर थे, पद जाने के बाद कांग्रेसी हो गए। यह कहना पर्याप्त नहीं है कि देश कांग्रेस के समय स्वतंत्र हुआ। कांग्रेस ने तो देश का विभाजन किया। विभाजन पर कांग्रेस नेताओं ने हस्ताक्षर किए थे। 14 अगस्त को देश का विभाजन हुआ और 15 अगस्त को देश को स्वतंत्र घोषित किया गया। उत्तरप्रदेश सरकार ने मदरसों में झंडा वंदन कर रिकार्डिंग सरकार को भेजने का आदेश प्रशासन को दिया है। सरकार का आदेश सही है। मदरसों को अड़चन में नहीं लाया जा रहा बल्कि प्रोत्साहन दिया जा रहा है।






Related News

  • आजादी के 70 साल…बाकी हैं कई सवाल…!
  • आंदोलन के नाम पर जो किसान दूध, सब्जियां सड़क पर फेंकते हैं, उन्हें अन्नदाता नहीं कहा जा सकता :सुमित्रा महाजन
  • बिहार के कई जिले में 72 घंटे की बारिश से हाल बेहाल
  • वहां जाएं, जहां सुरक्षित लगता है : इंद्रेश कुमार
  • 15 दिन में निर्णय होगा कि सरकार के साथ रहना है या नहीं : राजू शेट्टी
  • बिहार में जनादेश के साथ धोखा, जनता सिखायेगी सबक:शरद
  • वरुण गांधी बोले- मुझे फूलों से स्वागत पसंद नहीं, फूल तो मृत होते हैं
  • मिहान में नहीं चालू हुईं 30 फीसदी कंपनियां